बेवफा शायरी – Bewafa Shayari in Hindi – हिंदी शायरी hindi

By | June 21, 2018

NEW HINDI BEWAFA SHAYARI, BEST BEWAFAI HINDI STATUS, BEWAFA QUOTES

latest bewafa dosti shayari in hindi, bewafa girl image, bewafa poetry 2 lines, Bewafa Shayari in Hindi whatsapp status, bewafa shayri Bewafa shayari in hindi, bewafa wallpaper download, bewafa quotes 2017, Best Bewafa Shayari, Quotes,Images For Girlfriend & Boy Friends, Good Bewafa Shyari Images For Facebook, Best Bewafa Status Images For WhatsApp, Best Bewafa WhatsApp Status Images, Best Bewafa Quotes Images For Lover, Bewafa Status For Friends, Bewafa Shayari in Hindi, Bewafa Shayari in Hindi

 Shayari in Hindi

 

बेवफा शायरी – Bewafa Shayari in Hindi

Hum To Tere Dil Ki Mahfil Sajane Aaye The,
Teri Kasam Tujhe Apna Bnaane Aaye The,
Kis Baat Ki Saja Di Tumne Humko,
Bewafa Hum To Tere Dard Ko Kam Karne Aaye The..

Bewafa Shayari : Shayari Bewafa

रुसवाईयों की बात क्यों करते हो
तन्हाईयों में याद क्यों करते हो।।
वफा नहीं करना तो कोई बात नहीं
बेवफाई की बात क्यों करते हो।।

बेवफा शायरी

उसके चले जाने के बाद…हम महोबत नहीं करते किसी से,
छोटी सी जिन्दगी है…किस किस को अजमाते रहेंगे.

Bewafa Shayari in Hindi

बंद कर देना खुली आँखों को मेरी आ के तुम,
अक्स तेरा देख कर कह दे न कोई बेवफा।

New Bewfa Shayari

Usne Jab Se Bewafai Ki Mai Pyaar Ki Raah Me Fir Chal Naa Ska
Usne To Kisi Aur Ka Haath Thaam Liya Nas Mai Fir Kabhi Smbhal Nhi Ska

Bewafa Sad Shayari

मोहब्बत से भरी कोई
ग़ज़ल उसे पसंद नहीं।।
बेवफाई के हर शेर पे
वो दाद दिया करते है…

Bewafa Shayari

बेवफा तेरा मासुम चेहरा
भुल जाने के काबिल नही।
है मगर तु बहुत खुबसुरत
पर दिल लगाने के काबिल नही.

Bewafa Wallpaper

माना कि मोहब्बत की ये भी एक हकीकत है फिर भी,
जितना तुम बदले हो उतना भी नहीं बदला जाता।

बेवफाई शायरी

Unki Mohabbat Ka Abhi Nishaan Baki Hai
Naam Lab Par Hai Mgar Jaan Abhi Baki Hai
Kya Huaa Jo Dekh Kar Muh Feer Lete Hai Wo
Tsalli Hai Ki Abhi Tak Shakl Ki Pahchaan Baki Hai

शायरी बेवफा

तेरे इश्क़ ने दिया सुकून इतना;
कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे;
तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर;
कि तेरे बाद कोई बेवफ़ा न लगे।

हर भूल तेरी माफ़ की..
हर खता को तेरी भुला दिया..
गम है कि, मेरे प्यार का..
तूने बेवफा बनके सिला दिया

किसी और के बाहों में रहकर,
वो हम से वफा की बात करते हैं…
ये कैसी चाहत हे यारों…?
वो बेवफा हे जानकर भी हम उन्हीं से ही प्यार करते हैं….

Kisee aur ki baahon mein rehkar,
Woh hamse wafa kee baat karte hain..
Ye kaisee chaahat he yaaron…?
Wo bewafa hain jaanakar bhee ham unhi se hee pyaar karte hain..

Bewafa Shayari in Hindi

Mere Pyaar Ko Wo Smajh Nhi Paae
Rote The Jaab Tanha Tab Pas Koi Nhi Aaya
Mita Diya Khudko Kisi Ke Pyaar Me
Log Kahte Hai Mujhe Pyaar Karna Nhi Aaya

तेरे इश्क़ ने दिया सुकून इतना;
कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे;
तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर;
कि तेरे बाद कोई बेवफ़ा न लगे।

बेवफा शायरी – Bewafa Shayari in Hindi

कोई शिकवा नही है तुमसे बेवफाई का..
में परेशान हु खुद अपनी वफाओं से ..

तुझे चिठ्ठीयां नहीं करवटो की नकल भेजेंगे,
अब चादर के नीचे कार्बन लगाने लगे हैँ हम,
एक ख्वाहिश है मेरी, पूरी हो इबादत के बगैर,
वो आकर लिपटे मुझसे, मेरी इजाजत के बगैर.

बिछड़ के तुमसे ज़िन्दगी सज़ा लगती है
ये सांस भी जैसे मुझसे ख़फ़ा लगती है
अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किससे करूँ
मुझको तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफा लगती है.

बिछड़ के तुमसे तुम्हे बेवफा तो कह दिया मैंने,
हकीकत तो ये है के हर आईने में हम बस खुद ही को गुनहगार पाते है.

शायरी बेवफा

कहते है हर बात जुबां से हम इशारा नहीं करते,
आसमान पर चलने वाले जमीं से गुज़ारा नहीं करते,
हर हालात को बदलने की हिम्मत है हम में,
वक़्त का हर फैसला हम गंवारा नहीं करते

मेरे दिल को अब किसी से गिला नहीं ,
मन से जिसे चाहा वो मुझे मिला नहीं ,
बद नसीबी  कहूँ या वक्त की बेवफाई ,
अँधेरे में एक दीपक मिला पर वो जला नही …!

Bewafa Shayari in Hindi

रात की गहराई आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई.

ईतनी पीता हूँ कि मदहोश रहता हूँ,
सब कुछ समझता हूँ पर खामोश रहता हूँ,
जो लोग करते हैं मुझे गिराने की कोशिश,
मैं अक्सर उन्ही के साथ रहता हूँ

चमक सूरज की नहीं मेरे किरदार की है,
खबर ये आसमाँ के अखबार की है,
मैं चलूँ तो मेरे संग कारवाँ चले,
बात गुरूर की नहीं, ऐतबार की है

काश हम भी होते गालिब की तरह शायरी के बादशाह
हम भी तुझे रूलाते तेरी बेवफाई के शेर सुना सुना कर

आंखों में जिनके बस गई दुनिया भर की रौनकें
वो शख्स बेवफाई का एक जिंदा मिसाल था

लोग डूब कर सुनते है मेरी बेतुकी बातों को आजकल,
तू ही बता तेरी बेवफ़ाई नें मुझे ये क्या बना दिया ?

हर वक़्त तेरे आने की आस रहती है!
हर पल तुझसे मिलने की प्यास रहती है!
सब कुछ है यहाँ बस तू नही!
इसलिए शायद ये जिंदगी उदास रहती है!

Bewafa Shayari in Hindi

जख्म बन जानेँ की आदत है उसकी,
रुला कर मुस्कुरानेँ की आदत है उसकी,
मिलेगेँ कभी तोँ खुब रूलायेँ उसको,
सुना है रोतेँ हूऐ लिपट जाने की आदत है उसकी.

चोट है, ज़ख्म़ हैं, तोहमत है, बेवफाई है_
बचपन के बाद इम्तहान कड़ा होता है_

अगर वो ज़िन्दगी में फ़कत एक बार मेरी हो
जाती… तो मैं ज़माने की किताबों से लफ़्ज़
बेवफाई ही मिटा देता

क्या दू सबूत अपनी वफा का इससे बडा
मैने खुदा से बेवफाई की तुझसे वफा के खातिर

मोहब्बत रब से हो तो सुकून देती हैं,
क्युकी न खतरा हो जुदाई का न डर हो बेवफाई का..!

तेरी यादें हर रोज़ आ जाती है मेरे पास..
लगता है तुमने बेवफ़ाई नही सिखाई इनको…

4 thoughts on “बेवफा शायरी – Bewafa Shayari in Hindi – हिंदी शायरी hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.